प्रेस विस्तार
प्रेस विज्ञप्ति

एसजेवीएन ने वरिष्‍ठ कार्यपालकों के लिए – ''एसेंडेंट एसजेवीएन जेन एक्‍स कॉनक्‍लेव'' का आयोजन किया

दिसम्बर 01, 2019

एसजेवीएन ने वरिष्‍ठ कार्यपालकों के लिए – ''एसेंडेंट एसजेवीएन जेन एक्‍स कॉनक्‍लेव'' का आयोजन किया

          

एसजेवीएन ने वरिष्‍ठ कार्यपालकों के लिए दो दिवसीय कॉनक्‍लेव ''एसेंडेंट एसजेवीएन जेन एक्‍स कॉनक्‍लेव'' का रॉयल ट्यूलिप कुफरी, शिमला में आयोजन किया I इस कॉनक्‍लेव को एसजेवीएन के दूरदर्शी अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक,  श्री नंद लाल शर्मा द्वारा परिकल्पित किया गया है  I  इस  पहल का उद्देश्‍य कंपनी के वरिष्‍ठ अधिकारियों को कंपनी के शेयर्ड विजन को प्राप्‍त करने के लिए संभावित रणनीतिक व्‍यवधानों से प्रबंधन को अवगत कराते हुए विभिन्‍न रणनीतियों को समझने और विश्‍लेषण करने का अवसर प्रदान करना है I

कॉनक्‍लेव का उद्घाटन अध्‍यक्ष एवं प्रबंध निदेशक श्री नंद लाल शर्मा ने निदेशक (विद्युत) श्री आर.के.बंसल तथा निदेशक (कार्मिक), श्रीमती गीता कपूर की गरिमामयी उपस्थिति में किया I  श्री नरेन्द्र चौहान, (भा.प्रा.. रिटा.) राज्य मुख्य सूचना आयुक्त कॉनक्लेव के दूसरे और अंतिम दिन मुख्य अतिथि रहे एसजेवीएन के पूर्व ईडी श्री विजय चोपडा, फैकल्‍टी सदस्‍य पूर्व मुख्‍य महाप्रबंधक श्री एच.बी.सहाय तथा एसजेवीएन के पूर्व मुख्‍य महाप्रबंधक श्री के.के.गुप्‍ता भी उपस्थित रहेI

उपस्थित जनसमूह को संबोधित करते हुए श्री नंद लाल शर्मा ने कहा कि इस कॉनक्‍लेव का फोकस एसजेवीएन के 2023 तक 5000 मेगावाट, 2030 तक 12000 मेगावाट तथा 2040 तक 25000 मेगावाट हासिल करने के शेयर्ड विजन को प्रभावी ढंग से प्रसारित करना है I  इससे टीम भावना, कोर कंपीटेंसीज और ग्रुप सामंजस्‍य को प्रोत्‍साहित और बढ़ाने में मदद मिलती है I  प्रबंधन बेहतर बनने के लिए कर्मचारी क्षमता को प्रोत्‍साहित करने के लिए प्रतिबद्ध है और कंपनी की सफलता में सहायक व्‍यक्तियों के साथ और इस पारस्‍परिक प्रतिबद्धता से असाधारण व्‍यावसायिक निष्‍पादन के परिणामस्‍वरूप अनुकरणीय टीम प्रयासों को बढ़ावा मिलेगा I

एसजेवीएन को सन 2040 तक एक 25000 मेगावाट कंपनी बनाने के लिए नए विचार देने तथा एक रोडमैप तैयार करने के लिए एसजेवीएन के कारपोरेट मुख्‍यालय तथा सभी परियोजनाओं से सात टीमों ने विभिन्‍न विषयों जैसे शेयर्ड विजन के कार्यान्‍वयन के लिए विचार, एसजेवीएन मूलमंत्र - मूलभूत मान्‍यताएं, एसजेवीएन स्‍वोत विश्‍लेषण, उच्‍च निष्‍पादन वाली टीमें - सफलता की एक कुंजी, रणनीतिक निर्माण - जलविद्युत में वृदि्ध, आत्‍म प्रेरणा-प्रगति का मार्ग आदि पर प्रस्‍तुतियां दी I 



Go to Navigation